Latest News

समाजसेवी तथा उद्यमी ठाकुर सुंदर सिंह चौहान को जन्म दिवस पर हजारों लोगों ने प्रेषित की शुभकामनाएं:

समाजसेवी तथा उद्यमी ठाकुर सुंदर सिंह चौहान को जन्म दिवस पर हजारों लोगों ने प्रेषित की शुभकामनाएं: सतपुली नगर के प्रसिद्ध समाजसेवी तथा उद्यमी ठाकुर सुंदर सिंह चौहान जी को उनके जन्म दिवस पर प्रदेश और देश भर से शुभकामनाएं प्रेषित की जा रहीं हैं, विदित हो ठाकुर सुंदर सिंह चौहान बिना किसी प्रचार प्रसार या दिखावे के दीन हीन असहाय जरूरतमंद लोगों की सहायता करते रहते हैं, और बदले में उनसे उन्हें ढेर सारा आशीर्वाद मिलता है, ठाकुर सुंदर सिंह चौहान कहते हैं देने वाला तो ईश्वर है हम तो निमित्त मात्र है, इस तरह के विचार अपने आप में ठाकुर सुंदर सिंह चौहान जी के सरल सरस व्यक्तित्व को प्रदर्शित करते हैं, । । ऐंसी देनी देन जो कित सीखे हो सेन, ज्यों ज्यों कर ऊंचो खर्यो त्यों त्यों नीचे नैन, देन दार कोई और है देत रहत दिन रैन लोग भ्रम हम पर करैं ताके नीचे नैन।। एक बार रहीम दास के लिए महाकवि तुलसीदास ने लिखा कि आप जब किसी की मदद के लिए हाथ बढाते हैं तो आप की आंखों को हमने हमेशा झुका हुआ पाया है इस तरह का दान देने का विलक्षण तरीका आपने कैसे सीखा तो रहीम उत्तर देते हैं कि देने वाला तो वह परमात्मा है जो दिन रात दे रहा है और लोग यह भ्रम कर रहे हैं कि मैं दे रहा हूँ इसीलिए दान देते समय मैं दान प्राप्त करने वाले के मुंह में नहीं देखता, यही विचार मैने ठाकुर सुंदर सिंह चौहान जी में देखे किसी जरूरत मंद की जो सहायता बन पडी चुप चाप कर दी, ठाकुर सुंदर सिंह चौहान जी मलेठी में असहाय वृद्ध जनों के लिए वृद्धाश्रम चलाते हैं, कई जरूरतमंद असहाय बुजुर्ग जीवन का आखिरी पहर स्वाभिमान के साथ ठाकुर सुंदर सिंह चौहान जी द्वारा निर्मित आ श्रम में व्यतीत कर रहे हैं। ठाकुर सुंदर सिंह चौहान जी कहते हैं मुझे अपने पहाड़ से बहुत लगाव है, मैं इन वीरान हो रहे पहाडों को खुशहाल देखना चाहता हूँ, अपने पहाड़ के सीढ़ी नुमा खेतों को फिर से लहलहाती फसलों के साथ देखना चाहता हूँ, मैं आशान्वित हूँ कि एक ना एक दिन पहाड़ का युवा जागेगा, वह सरकारी नौकरी की जगह स्वयं स्वरोजगार अटना कर अपने गाँव के और युवाओं को भी रोजगार देगा दुग्ध उत्पादन, मछली पालन मुर्गी पालन गाय भैंस शब्जी पहाड़ी खाद्य पदार्थों के द्वारा अच्छी आजीविका कमाई जा सकती है, स्वरोजगार के लिए ठाकुर सुंदर सिंह चौहान सतपुली में एख वर्कशॉप भी आयोजित करा चुके हैं जिसमें विशेषज्ञ लोगों को आमंत्रित किया गया बैंक से ऋण प्राप्त करने उद्यम स्थापना हेतु इसके लिए मार्ग दर्शन दिया गया ।। पहाड़ के लोग पहले की तरह आत्मनिर्भर हों युवाओं को स्थानीय स्तर पर रोजगार उपलब्ध हो पहाड़ फिर से आबाद हों यही कामना करते हैं ठाकुर सुंदर सिंह चौहान जी, सभी लोगों की ओर से ठाकुर सुंदर सिंह चौहान जी को जन्मदिन पर हार्दिक बधाई तथा मंगलमय शुभकामनाएं।।। आजय तिवाड़ी।।।।।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button