Latest News

भगवान हनुमान जी प्रेरणा पुंज “ठाकुर सुंदर सिंह चौहान”

प्रसिद्ध समाजसेवी ठाकुर सुंदर सिंह चौहान जी ने भगवान हनुमान जयंती पर समस्त देशवासियों प्रदेश वासियों तथा पौड़ी गढ़वाल की जनता को शुभकामनाएं प्रेषित करते हुए कहा है कि भगवान हनुमान जी का जीवन हमारे लिए प्रेरणा पुंज है।

हनुमान जी अतुलनीय बल के स्वामी हैं लेकिन विनम्र इतनें कि स्वयं को भगवान राम के सेवक कहलाना पसंद करते हैं। भगवान हनुमान जी का बल बल तीव्र हवा के वेग से बढ़कर है। वे हमे कर्म प्रधान होने की प्रेरणा देते हैं।

भगवान हनुमान जी प्रेरणा पुंज : ठाकुर सुंदर सिंह चौहान

विवेक और नीति के पारंगत भगवान हनुमान जी बालि के उत्पीड़न से सुग्रीव की सहायता के लिए भगवान राम की सहायता लेते हैं। हनुमान जी अदम्य साहस के प्रतीक हैं। समुद्र को लांघने का काम भगवान हनुमान जी करते हैं।

सुरसा नाम की राक्षसी के मुहं में लघु रुप धारण कर प्रवेश करते हैं। रावण द्वारा हरण करने पर माता सीता की खोज हनुमान जी करते हैं। परम बलशाली अहिरावण का वध पाताल जा कर सम्भव बनाते हैं।

प्रसिद्ध समाजसेवी ठाकुर सुंदर सिंह चौहान जी ने कहा कि हनुमान जी स्वयं महाकाल रुद्र के अंश हैं और कलियुग में सरलता से प्रसन्न होने वाले भगवान हनुमान जी हैं। मनोजवं मारुततुल्य वेगं, जितेन्द्रियं बुद्धि मतांबलिष्ठम्, वातात्मजमवानरयूथमुख्यमश्रीरामदूतम वानर यूथ मुख्यं श्रीराम दूतं चरणं प्रपद्ये।

सरल हिर्दय महान समाज सेवी ठाकुर सुंदर सिंह चौहान जी कहते हैं कि हनुमान जी अतुलनीय बल के स्वामी हैं। फिर भी कहते हैं मोहि ना कछु बांधेकर लाजा कीन्ह चहंहु निज प्रभु कर काजा। भगवान हनुमान जी समस्त रिद्धि सिद्धि के दाता हैं प्रसिद्ध समाजसेवी ठाकुर सुंदर सिंह चौहान जी कहते हैं कि। हम सभी को अपने जीवन में भक्ति, साहस, विनम्रता की सीख भगवान हनुमान जी से लेनी चाहिए।।। अलग खबर।।।।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button