Kotdwar News

वन रैंक वन पेंशन विसंगतियों तथा कोटद्वार नगर की ज्वलंत समस्याओं के समाधान को लेकर पूर्व सैनिक संघर्ष समिति 8जुलाई को प्रधानमंत्री को प्रेषित करेगी ज्ञापन।। महिन्द्र पाल सिंह रावत। अध्यक्ष पूर्व सैनिक संघर्ष समिति।।

वन रैंक वन पेंशन विसंगतियों तथा कोटद्वार के रुके हुए विकास के लिए पूर्व सैनिक संघर्ष समिति आगामी 8 जुलाई को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ज्ञापन प्रेषित करेगी।।। कोटद्वार में सड़कों पर फैला अतिक्रमण, मोटर नगर बस अड्डा, मेडिकल कॉलेज स्थापना, ऐतिहासिक कण्वाश्रम के विकास, कोटद्वार बेस अस्पताल को जीवन रक्षक उपकरणों से सुसज्जित करने जिससे लोग रैफर हों उपचार हेतु बाहरी क्षेत्रों यथा दिल्ली, चंडीगढ़, देहरादून, ऋषिकेश ना भेजे जाये व कोटद्वार में ही बेहतर उपचार मिले आखिर डेढ़ लाख से ऊपर की जनसंख्या तथा पर्वतीय और सीमावर्ती उत्तर प्रदेश की जनता इस बेस अस्पताल पर निर्भर है। पूर्व सैनिक संघर्ष समिति कोटद्वार बेस अस्पताल को जीवन रक्षक उपकरण सहित एक उच्च कोटि के अस्पताल के रूप में बेस चिकित्सालय में बदलने की मांग प्रधानमंत्री से करेगी जिससे कि केन्द्र सरकार राज्य सरकार को बजट आवंटित कर सके, केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार ने वन रैंक वन पेंशन योजना लागू की लेकिन इसमें कुछ विसंगतियों के चलते पूर्व सैनिकों को योजना का लाभ में विसंगतियों का सामना करना पड़ रहा है। भारतीय सेना के सभी पूर्व सैनिक इन विसंगतियों के सम्यक निवारण के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ध्यान उक्त ज्ञापन के माध्यम से आकर्षित करना चाहते हैं। इसके साथ ही लाल ढांग चिल्लरखाल कंडी मार्ग को पर्यावरण अनुकूल ऐलीवेटेड मार्ग खासकर बफर जोन में बनाकर उक्त मोटर मार्ग जो कि गढ़वाल और कुमाऊँ को आपस में सहजता से जोडता है का निर्माण किया जाना चाहिए तथा केन्द्रीय भूतल परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने इस सड़क के निर्माण के लिए कोटद्वार की एक जनसभा में मौखिक स्वीकृति दी है।।कोटद्वार नगर निगम को कूड़ा डम्प करने के लिए बेहतर स्थल उपलब्ध कराने के साथ कूड़ा निस्तारण उपकरण और पालीथीन रिसाइक्लिंग यूनिट लगवाने की मांग पूर्व सैनिक संघर्ष समिति अपने ज्ञापन के माध्यम से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से करेगी।।।।

आगामी 08 जुलाई 2024 को सुबह (10 बजे) भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र दामोदर दास मोदी  को पूर्व सैनिकों, वीर नारियों और युद्ध दिव्यांग पूर्व सैनिकों की वन रैंक वन पेंशन       *ओ०आर०ओ०पी०* की विसंगतियों के समाधान के लिए  और कोटद्वार के लम्बें समय से रुके विकास योजनाओं पर उप जिलाधिकारी कोटद्वार के माध्यम से ज्ञापन प्रेषित किया जिसमें वन रैंक वन पेंशन की विसंगतियों के समाधान के लिए तीन सदस्यीय जजों की कमिटी गठित कर पेंशन की मूल विसंगतियों का अध्यन कर उनको दूर करने के सुझाव को सरकार के सम्मुख रखना।  कोटद्वार की अवरोधित विकास योजनाओं जैसे लालढांग– चिल्लरखाल मार्ग को एलिवेटेड स्वरूप में  बनाना, मेडिकल कॉलेज का निर्माण, प्रशासनिक शिथिलता और भ्रष्टाचार की भेट चढ़े मोटर नगर के बस अड्डे, कर्ण आश्रम को पर्यटन स्थल के रूप में  विकशीत करवाना, कोटद्वार को ट्रेचिंग ग्राउंड की समस्या से निजात दिलाना , आदि विषयो को  माननीय प्रधान मंत्री  के संज्ञान लाया जाएगा। अत:   कोटद्वार के समस्त पूर्व सैनिकों, वीर नारियों से अपील करते है कि  08 जुलाई 2024 (10 बजे) अधिक से अधिक  संख्या में तहसील परिसर पहुंच कर पूर्व सैनिक संघर्ष समिति कोटद्वार को अपना समर्थन दे।विदित हो कि पूर्व सैनिक संघर्ष समिति तथा अध्यक्ष महिन्द्र पाल सिंह रावत के नेतृत्व में कोटद्वार नगर की ज्वलंत समस्याओं को लेकर मुखर है, तथा लगातार कोटद्वार की समस्याएं हुकूमत तक पंहुचाने के लिए संघर्ष कर रही है। 

      

उक्त जानकारी एक प्रेस विज्ञप्ति मे पूर्व सैनिक संघर्ष समिति के अध्यक्ष महिन्द्र पाल सिंह रावत द्वारा दी गई।।।

अलग खबर डाटकाम उत्तराखण्ड का सबसे लोकप्रिय हिंदी समाचार वेबसाइट, जिसे पिछले सप्ताह तीन लाख के लगभग लोगों ने उत्तराखण्ड, देश, तथा गल्फ कंट्री तथा कनाडा में देखा।।।। अलग खबर डाटकाम।।।।।

          

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Adblock Detected

Please Disable Your Adblocker !