Uncategorized

हाथरस कांड के आरोपी को राजनीतिक समर्थन पीड़ितों के के घाव पर नमन छिड़कने जैसा।। अजय तिवाड़ी।।।

बाबा ओ बाबा:हाथरस काण्ड के आरोपी को समाजवादी पार्टी का राजनैतिक समर्थन! : गरीब असहाय अशिक्षित लोग नसीब बदलने का प्रपंच दिखाकर जिस तरह लूट खसोट तथा धोखाधड़ी के शिकार होते हैं यह एक सामाजिक विडम्बना है। जिन बीमारियों का उपचार करने में मेडिकल साइंस सफल नही है ये आदतन अपराधी तथा संतों बाबाओं के वेष में छुपे ढोंगी गरीब अशिक्षित लोगों का माइंड वाश करने वाले अपराधी जिन पर बलात्कारी, व्यभिचारी हत्या जैसे गंभीर आरोप हैं खुद को चमत्कारी बताकर लूट खसोट और अय्याशी का कारोबार करते हैं। सबसे पहले इस तथाकथित बाबा तथा उसके साथियों ने प्रशासन से कितने लोगों के इसके कार्यक्रम में भाग लेने की अनुमति ली थी? दूसरा खुद को चमत्कारी बता कर गरीब अशिक्षित लोगों को भावनात्मक और आर्थिक शोषण, खुद की प्राइवेट सेना रखना जैसे आरोप इस ढोंगी पर लगते हैं। उत्तर प्रदेश सरकार ने उक्त कांड जिसमें कि लगभग 120 से अधिक लोग जिसमें अधिक महिलाओं तथा बच्चों की संख्या है के विरुद्ध एक जांच आयोग बैठा दिया हैं, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पहले ही घोषणा कर दी है कि इस हत्यारे आयोजन के दोषियों को कठोर से कठोर सजा मिलेगी और जिस तरह से अपराधियों के विरुद्ध कार्यवाही को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का ट्रैक रिकार्ड है यह तय है कि देर सवेर यह तथाकथित बाबा कानून के शिकंजे मे होगा तथा इससे 120 लोगों की मौत का हिसाब बसूला जायेगा यह तय है। वहीं इस मौत के सत्संग पर समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव तथा उनके चाचा के बयान निश्चित रूप से इस मौत के सत्संग में जान गंवाने वाले लोगों के परिजनों को पीड़ा पहुचानें वाले हैं। रामगोपाल यादव कहते हैं इस तरह की घटनाएं होती रहती हैं तथाकथित बाबा को दोषी नही माना जाना चाहिए, तो उनके भतीजे अखिलेश यादव कहते हैं इस घटना के पीछे सरकार तथा प्रशासन दोषी है तथा बाबा पर प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज नही होनी चाहिए, यह ठीक उसी तरह का बयान है जैंसे स्वर्गीय मुलायम सिंह यादव ने बलात्कारियों के समर्थन मे कहा था कि इस तरह की छोटी मोटी गलतियां हो जाती हैं। इस तरह के बयान व राजनीतिक समर्थन अपराधियों के हौसले बढाने का काम करते हैं, तथा समाज मे बिखराव को बढ़ावा देते हैं वहीं यक्ष प्रश्न यह उठता है कि इस तथाकथित बाबा के समर्थन के पीछे समाजवादी पार्टी का क्या कनेक्शन है तथा क्या इस तरह के आयोजन राजनीति दलों के लिए तथा उनके समर्थन के लिए कार्य करते हैं? दूसरा अब समय आ गया है कि देश के संत समाज को आगे आकर इस तरह के पाखंडी तथा अपराधी लोगों के बिरूद्ध मजबूती से खड़ा हो तथा इनके ढोंग और अपराधी कृत्यों के विरुद्ध सामुहिक रूप से विरोध करें क्योंकि इनकी हरकतों से पूरे संत समाज की छवि पर भी सवाल उठते हैं। वहीं आज इस तरह के अपराधियों के विरुद्ध जन चेतना जागृत की जाने की आवश्यकता है समाज का अशिक्षित, गरीब तबका इन ढोंगी बाबाओं के शिकार अधिक होते हैं इन बाबाओं की पृष्ठभूमि भी जांची जानी चाहिए तथा इनके आपराधिक रिकॉर्ड इनके आश्रम तथा कार्यक्रमों में पोस्टर चस्पा करके जन जागरूकता पैदा की जानी चाहिए जिससे कि भविष्य में हाथरस जैसे मौत के सत्संग पुनः ना आयोजित हो पायें

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Adblock Detected

Please Disable Your Adblocker !