Kotdwar News

पौड़ी: पुलिस उप निरीक्षक मुकेश गैरोला के नेतृत्व में पुलिस ने 11 लाख की धोखाधड़ी करने वाले अभियुक्त को मथुरा से किया गिरफ्तार।

पौड़ी ; पौड़ी जनपद के जांवाज उपनिरीक्षक मुकेश गैरोला की कार्यकुशलता एक बार फिर सामने आई है जहाँ अन्तर्राज्यीय गैंग के एक सदस्य को मथुरा से गिरफ्तार करने में पुलिस को सफलता हाथ लगी है। यह अंतर्राज्यीय गैंग लोगों को कम ब्याज पर लोन लेने के नाम पर ठगी करते थे।

पौड़ी पुलिस के उपनिरीक्षक मुकेश गैरोला ने पाटीसैण चौकी प्रभारी रहते हुए मित्र पुलिस की अवधारणा को साकार किया है तथा आम जनता के बीच पुलिस की कार्यशैली और कार्यकुशलता को प्रदर्शित कर मित्र पुलिस की अवधारणा को साकार किया है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पौड़ी लोकेश्वर सिंह के निर्देशन में पौड़ी पुलिस लगातार तोड़ रही साइबर अपराधियों की कमर।

पौडी पुलिस ने 11 लाख की धोखाधड़ी करने वाले अन्तर्राज्यीय गैंग के सदस्य को मथुरा से दबोचा।

गैंग के सदस्य कम ब्याज पर लोन दिलवाने और लोन की रकम भी दोगुनी करने का लालच देकर करते है लाखों की साइबर ठगी।

दिनाँक 10.04.2024 को वादिनी श्रीमती सुनीता निवासी ग्राम कुल्लू भंवारी, पो0 चौपड़ियूँ, जनपद पौड़ी गढ़वाल ने कोतवाली पौड़ी पर प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज करायी कि किसी अज्ञात व्यक्ति ने फोन द्वारा वादिनी को कम ब्याज दर पर लोन देने और लोन की धनराशि को दुगुना करने के नाम पर 11 लाख रू0 की धोखाधड़ी की है। प्रथम सूचना रिपोर्ट के आधार पर कोतवाली पौड़ी पर मु0अ0सं0 24/2024, धारा-420 भादवि बनाम अज्ञात पंजीकृत किया गया।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय पौड़ी लोकेश्वर सिंह द्वारा आम जनमानस के साथ हो रही इन नवीन प्रकार की धोखाधड़ी की घटनाओं को गम्भीरता से लेते हुये अभियुक्त की शीघ्र गिरफ्तारी कर घटना का अनावरण करने हेतु प्रभारी थानाध्यक्ष पौड़ी को टीम गठित करने हेतु निर्देशित किया गया।

निर्गत निर्देशों को क्रम में गठित पुलिस टीम द्वारा ठोस साक्ष्य संकलन व कुशल सुरागरसी पतारसी की गई तो प्रकाश में आया की लोन दिलाने वाली ये गैंग बिहार और राजस्थान से संचालित हो रही है। पुलिस टीम द्वारा अलग अलग प्रदेशों में दबिश देकर अथक प्रयासों से उक्त अभियोग में संलिप्त अभियुक्त हरून पुत्र सपत को आज को मथुरा से गिरफ्तार कर आज माननीय न्यायालय के समक्ष पेश कर जेल भेज दिया गया है। अन्य अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु पुलिस लगातार प्रयासरत है।

अपराध करने का तरीकाः-

अभियुक्त ने पूछताछ में बताया कि हम लोग उत्तराखण्ड, हिमाचल प्रदेश के नम्बरों पर व्हाट्सएप व काल के माध्यम से सस्ती ब्याज दरों पर लोगों को लोन दिलाने का लालच देते हैं, साथ ही लोन की धनराशि को बिना प्रोसेसिंग शुल्क के दुगुना लोन के लिये भी लालच देते हैं। जिसमें लोग लालच में आ जाते हैं, और शुरुआत में प्रोसेसिंग फीस 2,000 से शुरुआत करते करते हम लोगों को तरह तरह का लालच देकर लोगों का माइण्ड बातों ही बातों में वाश करते हुये उनसे लाखों रुपये गूगल पे, फोन पे के माध्यम से धनराशि अपने खातों में डलवाते हैं। जब हमें विश्वास होता है कि इसने पुलिस में हमारी रिपोर्ट दर्ज करवा दी है तो हम मोबाईल नम्बरों को बन्द कर उन सिमों को तोड़ देते हैं।

अभियुक्त का नाम पताः-
हारून (उम्र-23 वर्ष) पुत्र सपत, निवासी हथिया तहसील छाता, थाना बरसाना, जनपद मथुरा उ.प्र

पंजीकृत अभियोगः-
मु0अ0सं0- 21/2024, धारा-420 भादवि

पुलिस टीमः-

  1. उपनिरीक्षक श्री मुकेश गैरोला
  2. मुख्य आरक्षी श्री धीरज सिंह
  3. आरक्षी श्री अमरजीत सिंह- साईबर सैल कोटद्वार

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Adblock Detected

Please Disable Your Adblocker !