Uncategorized

लैंसडाउन: जनसेवा मंच ने सरकारी सस्ता गल्ला दुकानों में कथित रूप से प्लास्टिक चावल वितरण की जांच की मांग की। उपजिलाधिकारी को सौंपा ज्ञापन

प्लास्टिक के चावलों की हो जांच – जनसेवा मंच

लैंसडौन। तहसील लैंसडौन के अन्तर्गत खाद्य आपूर्ति विभाग के सरकारी सस्ते गल्लों के द्वारा मिलावटी चावल उपभोक्ताओं को खिलाया जा रहा है। जनता को अंदेशा है कि ये प्लास्टिक के चावल हैं। मिलावट होने के कारण लोग इन चावलों को खाने से डर रहे हैं। इन चावलों की बनावट और प्रकृति सामान्य चावलों अलग है। सामाजिक संगठन जनसेवा मंच लैंसडौन के संयोजक मनोज दास ने उपजिलाधिकारी लैंसडौन शालिनी मौर्य को ज्ञापन सौंपते हुए बताया कि मिलावटखोरों द्वारा गरीब जनता की सेहत के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। इन मिलावटी चावलों की जांच संबंधित सक्षम एजेंसी या विभाग से होना अनिवार्य है। यदि जांच में ये प्लास्टिक के चावल साबित हुए तो मिलावटखोरों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की। ज्ञापन देने वालों में सन्तूदास, संजय शाह, अशोक नेगी, रामसिंह, अनुराग ध्यानी, विनोद आदि क्षेत्रवासी शामिल थे

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Adblock Detected

Please Disable Your Adblocker !