Monday, December 4, 2023
HomeLatest Newsजिलाध्यक्ष सतीश जोशी के नेतृत्व में भैरव सेना के सैकड़ौं कार्यकर्ताओं ने...

जिलाध्यक्ष सतीश जोशी के नेतृत्व में भैरव सेना के सैकड़ौं कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन


भैरव सेना के सैकड़ों कार्यकर्ता उत्तराखंड के मूल निवासियों पर कथित रूप से हो रहे जानलेवा हमले और प्रताड़ना के विरुद्ध जिला अध्यक्ष सतीश जोशी के नेतृत्व में विधानसभा चौक पर एकत्र हुए। तत्पश्चात डिफेंस कालोनी के निकट चकशाह नगर पर स्थित मंदिर के पुजारी के समर्थन में प्रदर्शन करते हुए मंदिर परिसर में पहुंच प्रताड़ित करने वालों के खिलाफ जोरदार नारेबाजी के साथ मुखर हुये। जिस पर प्रशासन द्वारा बामुश्किल से स्थिति को काबू में किया गया।
भैरव सेना के सुप्रीमो संदीप खत्री ने कहा की मूल पहाड़ी पंडित को लगातार यहां पर प्रताड़ित किया जा रहा है। मंदिर पुजारी पिछले 13 वर्षों से यहां पर निस्वार्थ भाव से अपनी पूजा अर्चना कर खंडित पड़े मंदिर को जागृत कर क्षेत्रवासियो की यजमानी कर रहे हैं तथा पिछले 13 वर्षों से मंदिर की संपूर्ण व्यवस्था अपने ही संसाधनों बना रहे हैं। परंतु अगल-बगल के कुछ गैर-पहाड़ी (उत्तर प्रदेश, बिहार) मंदिर की भूमि पर नजर गड़ाए हैं। जिस कारण पिछले 5 वर्षों से मंदिर के पुजारी पर भीड़ इकट्ठा कर जानलेवा हमले की कोशिश की गई। पीड़ित द्वारा कई बार थाने-चौकियों तथा जिला प्रशासन को प्रार्थना पत्र सौंपा गया, परंतु राजनीतिक रसूख रखने वाले कब्जा धारियों के ऊपर कुछ राजनेताओं का हाथ है जिन्होंने यह अवैध बस्तियां बसाई हैं।
मंदिर के पुजारी पीड़ित आचार्य उपेंद्र पंत ने कहा की मेरे साथ कई बार मारपीट की गई। जिसकी सूचना कई बार पुलिस प्रशासन को दी गई परंतु मारपीट करने वालों के ऊपर आज तक कोई कार्यवाही नहीं हुई। जबकि मेरे पास समय-समय पर दी गई तहरीर की प्रतिलिपियां भी उपस्थित हैं। कब्जे धारियों ने मंदिर में बने शौचालय को तोड़कर उसके ऊपर हिन्दूओं के आराध्य “राम दरबार” को भी स्थापित कर दिया। इससे बड़ी शर्मनाक बात हिंदुओं के लिए कुछ नहीं हो सकती कि शौचालय पर रामदरबार स्थापित है और जब मैंने इसका विरोध किया तो मंदिर परिसर में अपनी माता के साथ रह रहे कमरों को भी कब्जे धारियों ने तोड़ दिया, और मैं निर्बल असहाय होकर देखता रह गया। प्रशासन की ओर टकटकी लगाई तो उन्होंने भी कोई प्रतिक्रिया नहीं दी।
आक्रोश प्रदर्शन की सूचना पर पहुंची उप जिलाधिकारी न्यायिक डाक्टर अमृता शर्मा ने कार्यकर्ताओं को आश्वासन देकर समझाया जिस पर प्रदेश महासचिव अनिल थपलियाल ने आन्दोलन को औपचारिकता के पश्चात समापन करवाया।
आक्रोष प्रदर्शन में पहुंचे कार्यकर्ताओं में प्रदेश संगठन सह मंत्री करण शर्मा, प्रदेश अध्यक्ष युवा मोर्चा जितेंद्र नेगी, संजय पंवार, अनु राजपूत, सरोज शाह, पुष्पा थापा, काजल चौहान, अमन, श्रीत सुंदरियाल, मधुसूदन जुयाल, प्रताप सिंह, हेमंत सकलानी, गौरव राजपूत, सतीश धसमाना इत्यादि उपस्थित रहे।





RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments