Tuesday, November 28, 2023
HomeLatest NewsSSP पौड़ी श्रीमती श्वेता चौबे के कुशल निर्देशन में पौड़ी पुलिस छात्राओं...

SSP पौड़ी श्रीमती श्वेता चौबे के कुशल निर्देशन में पौड़ी पुलिस छात्राओं के लिये बनी सुरक्षा सखियाँ, दिया जा रहा है सुरक्षित वातावरण में आत्मरक्षा प्रशिक्षण।

पौड़ी पुलिस स्कूली छात्राओं की सुरक्षा हेतु कटिबद्ध।

SSP पौड़ी श्रीमती श्वेता चौबे के कुशल निर्देशन में पौड़ी पुलिस छात्राओं के लिये बनी सुरक्षा सखियाँ, दिया जा रहा है सुरक्षित वातावरण में आत्मरक्षा प्रशिक्षण।

पौड़ी पुलिस द्वारा फिर से सिखाये छात्राओं को आत्मरक्षा के पैतरे।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदया पौड़ी श्रीमती श्वेता चौबे छात्राओं की सुरक्षा हेतु अति संवेदनशील हैं। महोदया द्वारा जनपद आगमन से ही स्कूली छात्राओं में सुरक्षा की भावना सुढृढ़ करने, छात्राओं के साथ छेड़छाड़ जैसी घटनायें एवं विपरीत परिस्थितियों का सामना करने के लिये “एक साझू प्रयास पुलिस वाला गुरजी का साथ” के तहत जनपद के सभी शिक्षण संस्थानों में जागरूकता कार्यक्रम लगातार चलाया जा रहा है। इसी के तहत 1.पोक्सो एक्ट/Legal Rights के बारे में जानकारी देना 2. साईबर सेफ रहने हेतु Awareness 3. Self Defence Training/UAC (Un Armed Combat) के प्रशिक्षण के साथ छात्राओं को Good touch Bad touch के अन्तर के सम्बन्ध में Training Of Trainers (TOT) प्रशिक्षित महिला पुलिस कार्मिकों द्वारा अपने-अपने थाना क्षेत्रान्तर्गत विभिन्न शिक्षण संस्थानों में जाकर लगातार छात्राओं को जागरूक करते हुये प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

➡️ निर्गत आदेशों के क्रम में आज भी दिनाँक 24.04.2023 को महिला हेल्प लाईन प्रभारी निरीक्षक श्री प्रताप सिंह एवं महिला उपनिरीक्षक टीना रावत मय पुलिस टीम द्वारा राजीव गांधी नवोदय विद्यालय संतूधार एवं जवाहर लाल नेहरू नवोदय विद्यालय खैरासैंण में जाकर छात्राओं को जागरूक करते हुये आत्मरक्षा का प्रशिक्षण दिया गया।

➡️ सर्वप्रथम छात्राओं को पोक्सो एक्ट एवं उनके Legal Rights के सम्बन्ध में जानकारी देकर उनको जागरूक किया गया।

➡️ वर्तमान में छात्राओं द्वारा सोशल साइट्स (फेसबुक, ट्वीटर एवं इन्ट्राग्राम आदि) का प्रयोग किया जा रहा है परन्तु कुछ बातों की अनिभिज्ञता के कारण वे साईबर अपराध का शिकार हो जाती हैं। जिसके लिये उन्हें साईबर सेफ (अपने प्रोफाइल को कैसे लॉक करना, अपनी निजी जानकारियाँ शेयर नहीं करनी है आदि) के सम्बन्ध में जानकारी दी गयी।

➡️ उक्त प्रशिक्षण में प्रशिक्षित महिला कार्मिकों द्वारा छात्राओं को आत्मरक्षा प्रशिक्षण के तहत पंच बांधना, शरीर की कमजोर कड़ी पर वार करना, किसी भी पकड़ से खुद को छुड़ाने के साथ पैरों पर वार करना आदि तकनीकी का प्रशिक्षण दिया गया। जिससे छात्राएं मुसीबत के समय खुद का बचाव कर सके। साथ ही पुलिस टीम द्वारा छात्राओं को जागरूकता पम्पलेट भी वितरित किये गये।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments